Khamoshiyan Lyrics हिंदी में - Arijit Singh

Admin
0
Khamoshiyan Lyrics



khamoshiyan lyrics

खामोशियाँ आवाज़ हैं

तुम सुनो तो आओ कभी

छूकर तुम्हें खिल जाएगी

घर इनको बुलाओ कभी

बेकरार हैं बात करने को

कहने दो इनको ज़रा


खामोशियां। तेरी मेरी खामोशियाँ

खामोशियां। लिपटी हुई खामोशियाँ


क्या उस गली में कभी तेरा जाना हुआ

जहां से ज़माने को गुज़रा ज़माना हुआ

मेरा समय तो वहीं पे है रुका हुआ

बताऊं तुम्हें क्या मेरे साथ क्या हुआ


खामोशियाँ एक साज़ है

तुम ढूंढो कोई लाओ जरा

ख़ामोशियाँ अल्फ़ाज़ हैं

कभी आ गुनगुना ले ज़रा

बेकरार हैं बात करने को

कहने दो इनको जरा हां


खामोशियां। तेरी मेरी खामोशियाँ

खामोशियां। लिपटी हुई खामोशियाँ


नदिया का पानी भी खामोश बहता यहाँ

खिली चाँदनी में छुपी लाख खामोशियाँ

बारिश की बूँदों की होती कहाँ है ज़ुबान

सुलगते दिलों में है खामोश उठता धुआं


ख़ामोशियाँ आकाश है

तुम उड़ो तो आओ ज़रा

खामोशियां एहसास है

तुम्हें महसूस होती है क्या

बेकरार हैं बात करने को

कहने दो इनको ज़रा हा


खामोशियां। तेरी मेरी खामोशियाँ

खामोशियां। लिपटी हुई खामोशियाँ

खामोशियां। तेरी मेरी खामोशियाँ

खामोशियां। लिपटी हुई खामोशियाँ

Tags

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !